• Fri. Jun 14th, 2024

शाहजहांपुर के ग्राम ईश्वरा में लोकसभा चुनाव का बहिष्कार, ग्रामीण बोले गांव में नहीं है मूलभूति सुविधा मांगे पूरी नहीं हुई तो नहीं डालेंगे वोट

Bytennewsone.com

May 9, 2024
17 Views

शाहजहांपुर के ग्राम ईश्वरा में लोकसभा चुनाव का बहिष्कार, ग्रामीण बोले गांव में नहीं है मूलभूति सुविधा मांगे पूरी नहीं हुई तो नहीं डालेंगे वोट



टेन न्यूज़ !! ०९ मई २०२४ !! प्रशांत शर्मा@ खुदागंज/शाहजहांपुर


देश भर में लोकसभा चुनाव का उत्साह देखने को मिल रहा है गांव में मतदान जागरूकता कार्यक्रम हो रहे हैं प्रशासन का प्रयास है कि अधिक से अधिक लोग लोकतंत्र के महापर्व में सहभागिता करें ऐसे में शाहजहांपुर जिले के खुदागंज ब्लॉक के एक गांव के लोगों का कहना है कि आजादी के सात शकत से ज्यादा से होने पर भी मूलभूति सुविधाओं के लिए तरस रहे हैं

पूरा मामला खुदागंज ब्लॉक के ग्राम पंचायत ईश्वरा का है यह लोगों ने बताया है कि उनकी समस्याओं के समाधान नहीं हुए इसीलिए वह इस बार वोटिंग नहीं करने बाले है। इस बार सभी ग्रामीण लोकसभा चुनाव का बहिष्कार कर रहे हैं।

काम नहीं तो वोट नहीं ग्रामीणों के अनुसार यहां रोड़ और शमशान आदि समस्या बनी हुई है उनका कहना है कि हमारा गांव का भी पिछड़ा हुआ है ग्रामीणों की मूलभूति सुविधाएं तक पूरी नहीं हो पा रही हैं अब जब तक हमारी समस्या का समाधान नहीं हो जाता तब तक हम वोटिंग नहीं करेंगे।

ग्रामीणों ने आरोप लगाते हुए कहा कि चुनाव आते ही नेताओं की बड़ी बड़ी गाड़ी आनी आना शुरू हो जाती हैं चुनाव जीत जाने के बाद किसी भी नेता ने इस गांव की तरफ मुंह मोड़ कर नहीं देखा ना ही अपने कार्यकाल में कभी इस गांव में आया है । चुनाव के दौरान ग्रामीणों को सड़क बनाने का आश्वासन दिया गया था जो आज तक पूरा नहीं हुआ है. अपनी मांग पूरी न होने से नाराज ग्रामीणों ने लोकसभा चुनाव का बहिष्कार करने का ऐलान कर दिया है।

इसके साथ बुधवार को पोस्टर लगाकर नारेबाजी भी की.

महेश चंद्र पांडेय ने बताया कि ईश्वरा ग्राम पंचायत का रोड़- ईश्वरा से संतोषपुर मार्ग जो तिलहर हाइवे पर निकलता ईश्वरा से संतोषपुर कि दूरी तीन किलोमीटर की सड़क बनाने के लिए लगातार मांग की जा रही है. समस्त ग्राम वासियों को सड़क की वजह से परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

ग्रामीणों ने आरोप लगाते हुए कहा की शाहजहांपुर में दो दो मंत्रियों होने के बावजूद भी सड़को का ये हाल है।

कुछ ग्रामीणों ने बताया कि इंटर कॉलेज न होने की वजह से अपनी कक्षा आठवीं के आगे बेटियों को नहीं पड़ा पा रहे हैं।

ग्रामीणों बताया, कि पक्की सड़क न होने से मरीजों और गर्भवती महिलाओं को अस्पताल ले जाने में सबसे ज्यादा परेशानी होती है. कई बार रास्ते में ही प्रसव हो चुके हैं. ग्रामीणों ने कहा कि विधायक सलोना कुशवाहा से लेकर सांसद सहित अन्य जनप्रतिनिधियों से समय-समय पर सड़क निर्माण की मांग की गई लेकिन, इस समस्या को किसी नेता ने गंभीरता से नहीं लिया गया ग्राम वासियों ने सड़क निर्माण के लिए हल्लाबोल दिया है. वहीं अब गांव के तमाम लोगो ने होने वाले लोकसभा चुनाव 13 मई के मतदान का बहिष्कार करने का ऐलान कर चुके हैं।

भाई इस मौके पर महेश चंद्र पांडे प्रमोद पांडे, पवन, नरेश ,राजपाल ओमकार ,कैलाश, राम सेवक छत्रपाल, राम दत्त, देवेंद्र ,भारतपाल भगवान दास, मोतीलाल, राज्यपाल दयाराम संतराम जीतू कमलेश अमन संजय धनपाल, सहित तमाम लोग मौजूद रहे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed