• Mon. Jun 24th, 2024

जिलाधिकारी श्री शुभ्रान्त कुमार शुक्ल की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट गांधी सभागार में जिला पोषण समिति की समीक्षा बैठक सम्पन्न हुई|

Bytennewsone.com

Feb 24, 2024
9 Views

जिलाधिकारी श्री शुभ्रान्त कुमार शुक्ल की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट गांधी सभागार में जिला पोषण समिति की समीक्षा बैठक सम्पन्न हुई



टेन न्यूज़ !! २४ फरवरी २०२४ !! प्रभाष चन्द्र ब्यूरो, कन्नौज


जिलाधिकारी श्री शुभ्रान्त कुमार शुक्ल की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट गांधी सभागार में जिला पोषण समिति की समीक्षा बैठक सम्पन्न हुई|
बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने कहा कि माह जनवरी-204 में सैम 805 और मैम 2363 बच्चे मिले हैं उनकी देखभाल के लिए सभी व्यवस्थाएं दुरुस्त की जाएं जिससे बच्चों का विकास किसी भी रूप में बाधित न हो| उन्होंने जिला कार्यक्रम अधिकारी को निर्देश दिये कि सीडीपीओ, सुपरवाइजर, आंगनवाडी सहायिका की टीम बनाकर जिस ग्राम में ज्यादा संख्या में सैम बच्चे मिल रहे है, उस ग्राम का घर-घर बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण किया जाए।
कहा कि बच्चों का चिन्हांकन कर लंबाई, वजन, स्वास्थ्य परीक्षण आदि सही से होना चाहिए। उन्होने कहा कि जिन सैम व मैम बच्चो का वजन कम है उन्हे सरकारी अस्पताल में 14 दिनो के लिये भर्ती कराकर स्वास्थ्य चिकित्सा मुहैया करायी जाये। बच्चे को अस्पताल में भर्ती कराते समय वजन किया जाए और डिस्चार्ज करते समय भी वजन किया जाए| वजन बढ़ने पर ही डिस्चार्ज किया जाये। सैम और मैम बच्चों का ट्रीटमेंट समय से हो इसके लिए सबको जागरूक होना चाहिए|
परियोजना पोषण ट्रेकर पर आधार वैरीफाई कुल 202292 लाभार्थियो के सापेक्ष 201886 लाभार्थियो का हुआ है, शेष 406 आधार वैरीफाई पेडिंग है, जिसे समय से शतप्रतिशत कराया जाये। उन्होने निर्देश दिये कि पोषण ट्रैकर पर आधार अनवैरिफाई 247 रह गये है और 144 एरर दिख रहे है तथा मोबाइल नम्बर सत्यापन हेतु 68101 का होना है,जिसे शीघ्र पूर्ण किया जाये। इसमें किसी प्रकार की हीलाहवाली न की जाये, अन्यथा संबंधित की जिम्मेदारी तय की जायेगी। उन्होंने निर्देश दिए की लेक्टिंग मदर और 0 से 6 माह के बच्चों में जो 784 का अंतर है उसे सही से ठीक किया जाए| कहा कि बच्चों का महीने के प्रथम मंगलवार को वजन समय से कराया जाए| छूटे हुए बच्चों का वजन जल्द से जल्द किया जाए
श्री शुक्ल ने निर्देश दिए कि आरबीएसके टीम द्वारा आंगनबाड़ी केंद्रो का समय-समय से भ्रमण किया जाए और जिन केंद्रो में बच्चों की उपस्थिति कम पाई गई है उनमें उपस्थित पढ़ाई जाए| बच्चों की उपस्थित 90 प्रतिशत होनी चाहिए| किसी भी प्रकार की फर्जी रिपोर्ट न बनाई जाए|
कहा कि 1579 को-लोकेटेड आंगनबाड़ी केंद्र और 36 नॉन को-कोलोटेड आँगनवाड़ी केन्द्र संचालित है, जिसमें कन्वर्जन काष्ट, बच्चो की उपस्थित, राशन की उपलब्धता, आदि की रिपार्ट माह वाइज सूचना बनाकर दी जाए|वास्तविकता के आधार पर ही कार्य करें। कहा कि आँगनवाडी केन्द्र से समन्वय स्थापित कर 11 से 14 वर्ष की 701 किशोरियों को जो विद्यालय नही जाती है उन्हें चिन्हित कर आयरन सप्लीमेंट की किट उपलब्ध करायें। उन्होंने कहा कि गर्भवती महिलाओं की नियमित जांच कर दवाये/ पोषाहार उपलब्ध कराये, जिससे होने वाला बच्चा कुपोषण मुक्त हो।
हॉट कुक्ड मील के अंतर्गत 03-06 वर्ष के बच्चों को गर्म पका भोजन पी0एम0 पोषण योजना के मेन्यू की भांति ही दिया जाए| सभी केंद्रों में राशन वितरण समय से होना चाहिए| समस्त सीडीपीओ रिव्यू करें कि किस दिनांक तक राशन मिलेगा| एक सिस्टम बनाएं और सिस्टम के आधार पर राशन वितरण किया जाए| एएए की मीटिंग में सभी आंगनवाड़ी कार्यकत्रियों की उपस्थिति अनिवार्य है|
     बैठक में जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री राजेश वर्मा आदि उपस्थित रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *